[आवेदन] ई-सखी योजना राजस्थान | Online Apply | एप्लीकेशन फॉर्म

राजस्थान ई-सखी योजना|इ सखी योजना राजस्थान | ई-सखी मोबाइल एप|Rajasthan E-Sakhi Yojana in Hindi|ई-सखी योजना राजस्थान | इ सखी राजस्थान |

राजस्थान सरकार ने राज्य के लोगों को सेवाएं प्रदान करने के लिए “राजस्थान ई-सखी योजना” शुरू की थी। इसके लिए,सूचना प्रौद्योगिकी विभाग की तरफ से एक कार्य योजना बनाकर, काम भी शुरू किया गया है। इस योजना के माध्यम से, महिलाओं को ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में इलेक्ट्रॉनिक माध्यम से सेवा वितरण का लाभ उठाने के लिए मुफ्त प्रशिक्षण दिया जाएगा। ई-सखी योजना के माध्यम से, महिलाओं को ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में इलेक्ट्रॉनिक माध्यम से सेवा का लाभ उठाने के लिए मुफ्त प्रशिक्षण दिया जाएगा।राजस्थान में जन कल्याणकारी योजनाओं का लाभ लेने के लिए परिवार की महिला को मुखिया बनाया गया है।

e sakhi yojana rajasthan

ई-सखी योजना राजस्थान

ई-सखी योजना के तहत 12वी पास या इससे उच्च शिक्षित महिलाएं व बालिकाओं का चयन किया जाएगा। जो ई-सखी योजना में रुचि रखती है और स्मार्टफोन का उपयोग करना जानती है। सैनी ने बताया कि आवेदन प्राप्त महिलाओं व बालिकाओं का पंचायत समिति स्थित अटल सेवा केन्द्र में प्रशिक्षण भी होगा। इसमें प्रत्येक ग्राम पंचायत से 4 से 5 एवं प्रत्येक वार्ड से 10 ई-सखियों का चयन होगा। इसमें आयुसीमा 20 से 35 साल होगी।

डिजिटल साक्षरता को बढावा देने के उदेश्य से सूचना प्रौद्योगिकी और संचार विभाग की ई-सखी योजना की शुरुआत की जा रही है। राजस्थान ई सखी योजना के अंतर्गत महिलाओं को चुना जाएगा इस योजना के अंतर्गत प्रत्येक गांव में 5 तथा शहरी  में 10 ई सखी का चयन कर उन्हें विभाग द्वारा दिया जाएगा|इसके बाद यह सखी अन्य 2 लोगों को प्रशिक्षित कर इस योजना का उद्देश्य है कि प्रत्येक ग्रामीण परिवार से कम से कम एक व्यक्ति  डिजिटल साक्षर हो|

ई-सखी बनने की इच्छुक महिलाएं गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध ई-सखी मोबाइल एप के माध्यम से अपना ऑनलाइन पंजीयन करवा सकती है। पंजीयन करवाने से पहले ई-सखी के पास एसएसओ आईडी होनी चाहिए।

e sakhi Mobile App Download

राजस्थान ई-सखी योजना के लाभ:

  • योजना में प्रदेश में करीब डेढ़ लाख महिलाओं का चयन कर ई-सखियों के रूप में किया जाएगा।
  • ई-सखी योजना के लिए प्रत्येक गांव से चार से पांच तथा शहरी-उपनगरीय क्षेत्र के हर वार्ड से 10 ई-सखियों का चयन किया जाएगा।
  • अब हर घर जा सकेगा की डिजिटल सेवा क्या होती है
  • आईटी ज्ञान केन्द्र पर प्रशिक्षण के बाद ई-सखी अपने गांव या शहर में कम से कम 100 लोगों को विभिन्न प्रकार की सेवाओं को डिजिटल प्रक्रिया से लेने के लिए प्रशिक्षित करेगी।

राजस्थान ई-सखी योजना पात्रता:

  • ई-सखी योजना के लिए केवल उन्हीं महिलाओं को पात्र माना जाएगा जिनकी डिजिटल कार्यक्रम में रुचि हो|
  • जिन महिलाओं की आयु सीमा 20 से 35 वर्ष होगी पात्र होगी|
  • इस योजना में भाग लेने के लिए महिला का 12वीं पास होना आवश्यक है|
  • इसके लिए, विभाग की ओर से ई-सखी योजना के माध्यम से, शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों की महिलाओं के लिए उपलब्ध कल्याणकारी योजनाएं ऑनलाइन उपलब्ध हैं। इसे मोबाइल और कंप्यूटर की जानकारी भी आवश्यक है।

राजस्थान ई-सखी योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन:

इच्छुक महिला ई-सखी के आवेदन के लिए ब्लॉक आईटी तथा सांख्यिकी कार्यालय में सम्पर्क कर सकती है। इसके अलावा वे ई-सखी मोबाइल ऐप को डाउनलोड करके या ई-सखी वेबसाइट के माध्यम से भी अपना आवेदन कर सकती है।

  • ई-सखी मोबाइल एप के माध्यम से अपना ऑनलाइन पंजीयन करवा सकती है।
  • ई-सखी योजना में पंजीकरण करने के लिए ई-सखी के पास एसएसओ आईडी होनी चाहिए।
  • यदि ई-सखी के पास एसएसओ आईडी नहीं है तो वह राजस्थान सरकार के http://sso.rajasthan.gov.in/register वेब पोर्टल पर जाकर एसएसओ आईडी बना सकती है।

12 thoughts on “[आवेदन] ई-सखी योजना राजस्थान | Online Apply | एप्लीकेशन फॉर्म

  1. पूजा

    webside me kya bhara jaye

    Reply
    1. A.surya narayana

      Modi care is a nice project.to comman man.It should reach the public well.There are many chances to be side lineed by state govts.The care should be taken.some stickers are to be done to reach the public in all indian languages.all the best Modiji

      Reply
  2. पूजा

    रतकुड़िया

    Reply
  3. Pooja meena

    Website me kya bhara jaya

    Reply
  4. MAHAVIR

    SIR AAVEDAN KOSE AAP SE KRTE H

    Reply
  5. Vidhya

    E-sakhi se reletade sabhi problems ke solution ke liye 9829395387 no. Pr contact kar sakte h only what’s app ke jariye thanks
    Regarding by.
    Vidhya. Sharma

    Reply
  6. Pooja bairwa

    Ismy salary kya hogi.. Or Kya y permant job rhegi ???

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *